Mask on lyrics KARMA (Vivek Arora) ,Raftaar

0
24

[Intro: Rashmeet Kaur]
This one’s for the lost souls
This one’s for the ones fighting wars over lost gold
This one’s for my Mama globe
This one’s for my Bhailog

[Verse 1: Raftaar]
मेरे लोग सोते सड़कों पे
मेरे लोग कम कपड़ों मै सोशल झगड़ों में
पड़े लोग मेरे लफ्डो में असली खबर को कवर ना करे कभी मसलों में
दिन नी ढलता टीवी चलता घर सारे
बिल केबल का रैली करके भरवाता
दारू बट ती काजू कतली चटवाके
हर जगह पे ऊंच नीच बटवारे
यह पर्सनल अटैक लगे उन्हें
जो है मोहरों के मोहर
बुद्धि में गोबर
सभी दीप फेक फैक्ट लगे उन्हें क्यूंकि
वो ही करे नौकर
जो भी करे जोकर
है गरीबी सच
और पीछे वाली के झोपड़ी भी
और नौकरी जो थी चीनी और लड़के चाहते सब छोकरी नी
जब मांगे वोट तब वो थे genie
फिर जिसको वोट दो वो houdini
देखो सीमा आंटी जब बढ़ते चीनी
मेरी सोने की चिड़िया क्यों उड़ी नी

[Chorus: Raftaar]
2020 no peace peace!
जब से मास्क ऑन
सबके मास्क ऑफ
वायरस घुमा पूरी दुनिया बिना पासपोर्ट
मास्क ऑन!
सबके मास्क ऑफ
फेक न्यूज, प्रोपगंडा सभी मस्कॉट्स
मास्क ऑन!
सबके मास्क ऑफ
बच्चे भूके बैठे पेट में ना lactose
मास्क ऑन
सबके फैक्ट्स ऑफ
फेक न्यूज, प्रोपगंडा, सभी मैस्कॉट

[Verse 2: Karma]
में क्या बोली उनसे पूछो जो
Pandemic में बाहर, into two trouble
सैनिक और किसान, डॉक्टरों का बल
इनपे सबकी आस, बाकी सब विफल
H1N1
I Hope you never catch one
Hope तुम बिन बात बाहर नहीं जारे
Hope तुम बैठे घर पर
Hope तुम बिना सीट बेल्ट
होके लीन बैक नहीं हो सफर पर
Hope के चेहरे को कवर कर
अपने चलरे हो डगर पर
Cuz हम जब फासलों में
तभी लास्ट लॉन्ग है
बिना मास्क तो है पर खास लोग हैं
बिना हाथ धोके पास सास लोग
Then fast forward fast मॉर्ग

[Chorus: Raftaar]
2020 no peace peace!
जब से मास्क ऑन
सबके मास्क ऑफ
वायरस घुमा पूरी दुनिया बिना पासपोर्ट
मास्क ऑन!
सबके मास्क ऑफ
फेक न्यूज, प्रोपगंडा, सभी मैस्कॉट
मास्क ऑन
सबके मास्क ऑफ
बच्चे भूके बैठे पेट में ना lactose
मास्क ऑन
सबके फैक्ट्स ऑफ
फेक न्यूज, प्रोपगंडा, सभी मैस्कॉट

[Pre-Chorus: Rashmeet Kaur]
This one’s for the lost souls
This one’s for the ones fighting wars over lost gold
This one’s for my Mama globe
This one’s for my Bhailog

[Outro: Yunan & Rashmeet Kaur]
Pause
जो भी लिखा है कहीं
ज़रूरी नहीं के वोही सही
Pause!
वो सच ही नहीं
जो पढ़ के तू करता यकीन
Pause
जो भी लिखा है कहीं।
This one’s for my mama globe
Pause
वो सच ही नहीं
This one’s for my bhailog
जब से मास्क ऑन!

Writers:-KARMA (Vivek Arora) ,Raftaar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here