Roop tera mastana lyrics आनंद बक्शी

0
90
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हमसे न हो जाये
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हमसे न हो जाये
रात नशीली मस्त समां है
आज नशे में सारा जहाँ है
रात नशीली मस्त समां है
आज नशे में सारा जहाँ है
हाय शराबी मौसम बहकाए
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हमसे न हो जाये
आँखों से आँखें मिलती है ऐसे
बेचैन हो के तूफ़ान में जैसे
आँखों से आँखें मिलती है ऐसे
बेचैन हो के तूफ़ान में जैसे
मौज कोई साहिल से टकराए
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हमसे न हो जाये
रोक रहा है हमको जमाना
दूर ही रहना पास न आना
रोक रहा है हमको जमाना
दूर ही रहना पास न आना
कैसे मगर कोई दिल को समझाए
रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना
भूल कोई हमसे न हो जाये
Songwriters: आनंद बक्शी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here