Tu hi re lyrics Mehboob / A. R. Rahman

0
100
तू ही रे तू ही रे
तेरे बिना मैं कैसे जीयूं
आजा रे आजा रे
यूँ ही तड़पा ना तू मुझको
जान रे जान रे इन साँसों में बस जा तू
चाँद रे चाँद रे आजा दिल की ज़मीन पे तू
चाहत है अगर आके मुझसे मिल जा तू
या फिर ऐसा कर धरती से मिला दे मुझको
तू ही रे तू ही रे
तेरे बिना मैं कैसे जीयूं
आजा रे आजा रे
यूँ ही तड़पा ना तू मुझको
इन साँसों का देखो तुम पागलपन के
आए नहीं इन्हें चैन
मुझसे ये बोली मैं राहों में तेरी
अपने बिछा दूं ये नैन
इन ऊंचे पहाड़ों से जां दे दूंगा मैं
अगर तुम ना आई कहीं
तुम उधर जान उम्मीद मेरी जो तोड़ो
इधर ये जहां छोडू मैं
मौत और ज़िन्दगी तेरे हाथों में दे दिया रे
आई रे आई रे ले मैं आई हूँ तेरे लिए
तोड़ा रे तोड़ा रे हर बंधन को प्यार के लिए
जान रे जान रे आजा तुझमे समां जाऊं मैं
दिल रे दिल रे तेरी साँसों में बस जाऊं मैं
चाहत है अगर आके मुझसे मिल जा तू
या फिर ऐसा कर धरती से मिला दे मुझको
तू ही रे तू ही रे
तेरे बिना मैं कैसे जीयूं
आजा रे आजा रे
यूँ ही तड़पा ना तू मुझको
आ आ आ आ आ आ
सौ बार बुलाए मैं सौ बार आऊँ
इक बार जो दिल दिया
इक आँख रोये तो दूजी बोलो
सोयेगी कैसे भला
इन प्यार की राहों में पत्थर हैं कितने
उन सबको ही पार किया
इक नदी हूँ मैं चाहत भरी आज मिलने
सागर को आई यहाँ
सजना सजना आज आंसू भी मीठे लगे
तू ही रे तू ही रे
तेरे बिना मैं कैसे जीयूं
आजा रे आजा रे
यूँ ही तड़पा ना तू मुझको
जान रे जान रे इन साँसों में बस जा तू
चाँद रे चाँद रे आजा दिल की ज़मीन पे तू
पल पल पल पल वक़्त तो बीता जाए रे
ज़रा बोल ज़रा बोल
वक़्त से के वो थम जाए रे
आई रे आई रे ले मैं आई हूँ तेरे लिए
जान रे जान रे आजा तुझमें समा जाऊं मैं
Songwriters: Mehboob / A. R. Rahman

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here