Ye jo halka halka suroor hai lyrics Farrukh Ali Khan / Iqbal Kasoori Naqibi / Nusrat Fateh Ali Khan

0
24
ये जो हल्का हल्का सुरूर है
ये जो हल्का हल्का सुरूर है
यह तेरी नज़र का कुसूर है
के शराब पीना सीखा दिया
ये तेरी नज़र का कुसूर है
के शराब पीना सीखा दियाा
ये जो हल्का हल्का सुरूर है
ये जो हल्का हल्का सुरूर है
यह तेरी नज़र का कुसूर है
यह तेरी नज़र का कुसूर है
के शराब पीना सीखा दिया
के शराब पीना सीखा दिया
तेरे प्यार ने तेरी चाह ने
तेरे प्यार ने तेरी चाह ने
तेरी बहकी बहकी निगाह ने
मुझे एक शराबी बना दियाा
तेरी बहकी बहकी निगाह ने
मुझे एक शराबी बना दियाा
तेरी बहकी बहकी निगाह ने
मुझे एक शराबी बना दियाा
तेरी बहकी बहकी निगाह ने
मुझे एक शराबी बना दियाा
शराब कैसी खुमार कैसा
यह सब तुम्हारी नवाज़िशें हैं
पिलाई है किस नज़र से तू ने
कह मुझ को अपनी खबर नहीं है
तेरी बहकी बहकी निगाह ने
मुझे एक शराबी बना दियाा आ आ आ आ आ आआआआ
तेरी बहकी बहकी निगाह ने मुझे शराबी बना दियाा
सारा जहाँ मस्त जहाँ का निज़म मस्त
सारा जहाँ मस्त जहाँ का निज़म मस्त
खूं मस्त शीशा मस्त सुब्बु मस्त जाम मस्त
खूं मस्त शीशा मस्त सुब्बु मस्त जाम मस्त
दिन मस्त रात मस्त सहर मस्त शाम मस्त
दिन मस्त रात मस्त सहर मस्त शाम मस्त
यूँ तो साक़ि हर तरहा की तेरे मैखने में है
यूँ तो साक़ि हर तरहा की तेरे मैखने में है
वो भी थोरी सी
वो भी थोरी सी जो इन आँखों के पैमाने में है
वो भी थोरी सी जो इन आँखों के पैमाने में है
सब समझता हूँ तेरी ईश्वागारी आई सकी
सब समझता हूँ तेरी ईश्वागारी आई सकी
काम करती है नज़र नाम है पैमाने का
तेरी बहकी बहकी निगाह ने मुझे शराबी बना दियाा
तेरा प्यार है मेरी ज़िंदगी
तेरा प्यार है मेरी ज़िंदगी
तेरा प्यार है
बस मेरी ज़िंदगी तेरा प्यार है बस मेरी ज़िंदगी तेरा प्यार है बस मेरी ज़िंदगी
आ आ आ आ आ आ आ आ
ऊस मेरी ज़िंदगी तेरा प्यार हैण नमाज़ आती है मुझ को ना वज़ु आता है
सजदा कर लेता हूँ जब सामने तू आता है
बस मेरी ज़िंदगी
तेरा प्यार है मेरी ज़िंदगी
तेरा प्यार है तेरा प्यार है मेरी मेरी मेरी मेरी बस ज़िंदगी
तेरा प्यार है बस मेरी ज़िंदगी
तेरी याद है मेरी बंदगी
जो तेरी खुशी वो मेरी खुशी
जो तेरी खुशी वो मेरी खुशी
ये मेरे जुनून का है मोज़्ज़ा
ये मेरे जुनून का है मोज़्ज़ा
जहाँ अपने सर को झुका दियाा
वहाँ में ने काबा बना दियाा
जहाँ अपने सर को झुका दियाा
वहाँ में ने काबा बना दियाा
मेरे बाद किस को सताओ गे
मेरे बाद किस को सताओ गे
मेरे बाद किस को सताओ गे (मेरे बाद किस को सताओ)
मेरे बाद किस को सताओ गे
एइन ने उन के सामने अव्वल-तो-खंजर रख दियाा
फिर कलेजा रख दियाा दिल रख दियाा सर रख दियाा
और आर्ज़स क्या मेरे बाद किसको सताओ गे आ आ आ आ आ आ आ आ
मेरे बाद किस को सताओ गे
मुझे किस तरहा से मिटाओ गे
कहाँ जा के तीरी चलाओ गे
कहाँ जा के तीरी चलाओ गे
मेरी दोस्ती की बालाएँ लो
मेरी दोस्ती की बालाएँ लो
मुझे हाथ उठा कर दुआएं दो
तुम्हें एक कातिल बना दिया
मुझे हाथ उठा कर दुआएं दो
तुम्हें एक कातिल बना दिया सा धा ग मा मा पा ग मा पा ग मा रे स रे ग मा पा
मुझे हाथ उठा कर दुआएं
आ आ आ आ आ आ
मुझे हाथ उठा कर दुआएं दो सा रे सा धा ग मा मा पा ग मा पा ग मा रे स रे ग मा पा
मुझे हाथ उठा कर दुआएं
तुम्हें एक कातिल बना दिया आ आ आ आ आ आ
मुझे हाथ उठा कर दुआएं दो
तुम्हें एक कातिल बना दिया
ए जो हल्का हल्का सुरूर है
यह तेरी नज़र का कुसूर है
के शराब पीना सीखा दिया
Songwriters: Farrukh Ali Khan / Iqbal Kasoori Naqibi / Nusrat Fateh Ali Khan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here